प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना  ( सौभाग्य योजना )

25  सितम्बर को पंडित दीन दयाल उपाध्याय के जन्मदिन के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री सौभाग्य योजना की शुरूआत की।

सौभाग्य योजना का पूरा नाम प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना है। 

सौभाग्य योजना को पूरा करने का लक्ष्य 31 मार्च 2019 रखा गया है। लेकिन इसे 31 दिसंबर 2018 तक ही पूरा कर लिया जाएगा।

इस योजना के तहत 3 करोड गरीब लोगों को फायदा पहुंचाने  का लक्ष्य है।

इस योजना पर 16  हज़ार 340  करोड़ रुपये खर्च होंगे। जिसमे 14 हज़ार करोड़ रुपये ग्रामीण क्षेत्रों पर खर्च होगा। 

यह योजना  60 % खर्च केंद्र सरकार , 10 % राज्य सरकार तथा 30 % बैंक ऋण द्वारा क्रियान्वित की जाएगी 

* 85 % राशि केंद्र केवल विशेष श्रेणी के राज्यों को देगा 

इस योजना के तहत 2011 के सामाजिक, आर्थिक और जाति जनगणना में दर्ज गरीबों को मुफ्त में बिजली कनेक्शन दिया जाएगा। जिसका नाम इस सूची में नहीं है वह 500 रुपए में अपना कनेक्शन लगवा पाएंगे। इस रकम को 10 किस्तों में बिजली बिल के रुप में लिया जाएगा।

सौभाग्य के तहत बिहार, उत्तर प्रदेश, झारखंड, ओडिशा, जम्मू-कश्मीर, राजस्थान और उत्तर-पूर्व के राज्यों को खास तवज्जो दिया जाएगा। गांवों के गरीबों को बिजली के लिए राज्य सरकारों को सब्सिडी की व्यवस्था भी की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *